Ravi Badola Murder: हत्याकांड के बाद लोगों में उबाल, 20 को देहरादून बंद, पत्नी ने रखी ये मांग

TheNewsAdda

Ravi Badola Murder Case: देहरादून के डोभालवाला में हुए रवि बडोला मर्डर केस के बाद राज्य में बढ़ रहे अपराधों को लेकर स्थानीय लोगों में भारी आक्रोश नजर आ रहा है। बुधवार शाम लोगों ने बारिश के बीच मशाल जुलूस निकालकर अपना गुस्सा प्रकट किया और 20 जून यानी गुरूवार को देहरादून बंद का आह्वान किया है। मूल निवास, भू-कानून समन्वय संघर्ष समिति ने कल के देहरादून बंद का आह्वान किया है। संघर्ष समिति ने बंद को लेकर राजनीतिक दलों, सामाजिक संगठनों,व्यापारियों, पूर्व सैनिकों,युवाओं तथा महिलाओं से बंद सफल बनाने में सहयोग की अपील की है।

आज देहरादून प्रेस क्लब में रवि बडोला की पत्नी उर्वी बडोला और बहन ने प्रेस वार्ता भी की। इस दौरान मूल निवास, भू कानून संघर्ष समिति के संयोजक मोहित डिमरी ने कहा कि मूल निवासियों का अस्तित्व बचाने के लिए सबको सड़कों पर उतरना होगा। मोहित डिमरी ने कहा कि आपराधिक घटनाएं बढ़ रही हैं और लोग खौफ के साये में जीने को मजबूर हैं। उन्होंने राज्य सरकार से दिवंगत रवि बडोला की पत्नी को स्थायी नौकरी, एक करोड़ रु मुआवजा, घायलों को मुफ्त इलाज के साथ 20-20 लाख रु मुआवजा देने की मांग की है। साथ ही गोलीकांड मामले की जांच फास्ट ट्रैक कोर्ट में चलाने को मांग भी की।

अपने पति की हत्या के बाद गहरे गम और खौफजदा नजर आई उर्वी बडोला ने कहा कि इकलौते कमाने वाले पति की मौत के बाद अब उसके सामने अपने चार साल के बेटे के भरण पोषण का संकट खड़ा हो गया है। उन्होंने कहा कि उनके ससुर भी बुजुर्ग हैं लिहाजा परिवार को सुरक्षा भी चाहिए। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार उन्हें स्थायी नौकरी दे ताकि वह अपने परिवार और बेटे की परवरिश कर सके। जबकि मृतक रवि बडोला की बहन दीक्षा ने कहा कि समाज को उनके परिवार की मदद के लिए आगे आना चाहिए क्योंकि ऐसी घटना कल को किसी के साथ भी हो सकती है

ज्ञात हो कि रविवार रात देहरादून केस रायपुर क्षेत्र का डोभाल चौक गोलियों की तड़तड़ाहट से सिहर उठा।अपनी गिरवी रखी कार छुड़ाकर वापस लेने गए तीन लोगों को रिहायशी इलाके में बदमाशों ने गोली मार दी। इसमें रवि बडोला गोली लगने के बाद भागा और कुछ दूरी पर नाले में जा गिरा और रातभर की तलाशी के बाद सुबह छह बजे नाले में शव बरामद हुआ। जबकि रवि बडोला के दो साथी गोली लगने के बाद घायल हो गए थे जिनको रात ही अस्पताल में भर्ती करा दिया गया था। हालांकि कड़ी मेहनत के बाद पुलिस ने तमाम आरोपियों को अलग अलग स्थानों से दबोच लिया है।


TheNewsAdda
Dehradun firing caseRavi BadolaRavi Badola Murder CaseUTTARAKHAND