तहलका मैंगजीन के पूर्व सम्पादक तरुण तेजपाल यौन शोषण केस में बरी:जानिए कौन है तरुण तेजपाल जिसके स्टिंग ऑपरेशन के बाद बीजेपी अध्यक्ष, रक्षा मंत्री को देना पड़ गया था इस्तीफा

file photo
TheNewsAdda

  • साढ़े सात साल पहले अपनी सहकर्मी पत्रकार ने लगाया था लिफ़्ट में यौन शोषण का लगाया था आरोप, जानें कौन है तेजपाल?

पणजी: तहलका मैगजीन के पूर्व संपादक तरुण तेजपाल को दुष्कर्म मामले में बड़ी राहत मिली है। गोवा की अतिरिक्त जिला एवं सत्र अदालत ने तरुण तेजपाल को साढ़े सात साल पहले उनके खिलाफ लगे यौन उत्पीड़न के मामले में सभी आरोपों से बरी कर दिया है। तेजपाल के खिलाफ उनकी महिला सहकर्मी ने गोवा के ग्रैंड हयात होटल की लिफ़्ट में यौन शोषण करने का आरोप लगाया था।


यौन उत्पीड़न के आरोप लगाए थे। तहलका के पूर्व संपादक को 30 नवंबर 2013 को गिरफ्तार किया गया था। हालाँकि बाद में मई 2014 में तेजपाल को जमानत पर रिहा कर दिया गया था। केस की सुनवाई बंद कमरे में की गई और कोरोना महामारी के चलते स्टाफ की कमी के कारण कई बार फैसला टलने के बाद शुक्रवार को अदालत ने फैसला सुनाया है।
कौन हैं तरुण तेजपाल-
तरुण तेजपाल देश के जाने माने पत्रकारों में शुमार करते हैं। वे इंडियन एक्सप्रेस, इंडिया टुडे और आउटलुक में काम कर चुके। साल 2000 में तेजपाल ने तहलका वेबसाइट शुरू की थी। तहलका ने क्रिकेट मैच फिक्सिंग का पहला स्टिंग ऑपरेशन किया था। इसके बाद 2001 में तहलका के ज़रिए तेजपाल ने ऑपरेशन वेस्ट एंड के ज़रिए रक्षा सौदों में दलाली का भंडाफोड़ किया था। इस स्टिंग ऑपरेशन के बाद एनडीए सरकार में रक्षा मंत्री जॉर्ज फ़र्नांडिस को इस्तीफा देना पड़ गया था। इसी दौरान बीजेपी के तत्कालीन राष्ट्रीय अध्यक्ष बंगारू लक्ष्मण को इस्तीफा देना पड़ा था। यहीं से तरुण तेजपाल की खोजी पत्रकारिता का लोहा माना जाने लगा था।


TheNewsAdda

TNA

जरूर देखें

error: Content is protected !!