प्रदेश में कोविड से लड़ने के लिए समुचित हैं व्यवस्थाएं-प्रभारी सचिव स्वास्थ्य

TheNewsAdda

प्रदेश में कोविड नियंत्रण की व्यवस्थाओं और संक्रमण की स्थितियों को लेकर मीडिया ब्रीफिंग करते हुए प्रभारी सचिव स्वास्थ्य डॉ पंकज पांडे ने कहा कि कोविड की रोकथाम के लिए प्रदेश में पर्याप्त सुविधाएं हैं. प्रभारी सचिव ने बताया कि बीते 24 घंटों के दौरान प्रदेश में 2160 पॉजिटिव केस पाए गए हैं. इसी के साथ प्रदेश में कुल एक्टिव मरीजों की संख्या अब 18864 हो गई है. 13500 के लगभग मरीज होम आइसोलेशन में हैं और करीब 5000 मरीजों का उपचार विभिन्न अस्पतालोें में चल रहा हैं. स्वास्थ्य सुविधाओं पर प्रभारी सचिव ने बताया कि वर्तमान में प्रदेशभर में 7000 से अधिक आइसोलेशन बेड खाली है. इसके अलावा 2500 से अधिक आक्सीजन सपोर्टर बेड, 363 आईसीयू बेड और 463 वैंटिलेटर बेड प्रदेश में खाली हैं.

प्रभारी सचिव ने बताया कि प्रदेश के 7 जनपदों में कंटेनमेंट जोन बनाए गए हैं. इसमें देहरादून में सबसे अधिक 44, नैनीताल में 26, पौड़ी में 3, उत्तरकाशी में 3 और उधमसिंह नगर में 1 कंटेनमेंट जोन बनाया गया है. वैक्सीनेशन को लेकर प्रभारी सचिव ने बताया कि प्रदेश में अभी तक 1 लाख 88 हजार 900 हैल्थ केयर वर्कर्स को टीका लगाया जा चुका है, जिसमें 1.79 लाख फ्रंट लाइन वर्कर्स शामिल हैं. प्रदेश में कुल 15 लाख 95 हजार से अधिक लोगों को टीका लगाया जा चुका है. प्रभारी सचिव ने बताया कि प्रदेश में ऑक्सीजन की कोई कमी नहीं है. प्रदेश के तीन ऑक्सीजन मैनिफैक्चरिंग प्लांट्स में पर्याप्त उत्पादन हो रहा है।

डॉ. पंकज पांडेय, प्रभारी सचिव स्वास्थ्य


TheNewsAdda
error: Content is protected !!