राज्य स्वास्थ्य प्राधिकरण के खिलाफ कार्मिक शिक्षक महासंघ ने भरी हुंकार, गोल्डन कार्ड के नाम पर वेतन से अंशदान लूट के खिलाफ 31 को बनेगी आक्रामक आंदोलन की रणनीति

दीपक जोशी, अध्यक्ष, सचिवालय संघ
TheNewsAdda

  • गोल्डन कार्ड के सम्बन्ध में राज्य स्वास्थ्य प्राधिकरण की कार्य प्रणाली को लेकर 31 जुलाई, 2022 को मुखर होगा कार्मिक शिक्षक महासंघ

देहरादून: गोल्डन कार्ड की खामियों को लेकर प्रदेश के सभी कार्मिक-शिक्षक- पेंशनर्स व उनके परिवार के आश्रित सदस्यों की परेशानी दूर करने को लेकर राज्य स्वास्थ्य प्राधिकरण की कार्यप्रणाली सवालों के घेरे में है। गोल्डन कार्ड की व्यवस्था को धरातल पर सही प्रकार से क्रियान्वित न कराये जाने की स्थिति को लेकर राज्य स्वास्थ्य प्राधिकरण की कार्यप्रणाली से उत्तराखण्ड अधिकारी-कार्मिक शिक्षक महासंघ अक्रोशित है।

महासंघ द्वारा गोल्डन कार्ड को सरकार की मंशा के अनुरूप कार्मिकों, शिक्षकों व पेशनर्स की अपेक्षानुरूप बनाये जाने के संदर्भ में राज्य स्वास्थ्य प्राधिकरण के विरूद्ध व्यापक आन्दोलन तय किये जाने, प्रदेश में पूर्व ए0सी0पी0 की व्यवस्था 10, 16 व 26 वर्ष का निर्धारण कराये जाने तथा शिथिलीकरण नियमावली, 2021 को पुनः अग्रेत्तर अवधि हेतु बढ़ाये जाने के महत्वपूर्ण बिन्दुओं पर रविवार 31 जुलाई को प्रातः 11ः30 बजे, गौरव होटल, तहसील चौक देहरादून में एक वृहद्व बैठक आयोजित की जा रही है। इस बैठक में महासंघ के प्रान्तीय व जनपदीय पदाधिकारियों सहित प्रदेश के सभी मान्यता प्राप्त संघ/परिसंघों के सम्मानित पदाधिकारीगण तथा पेंशनर्स एसो0 के पदाधिकारी आमन्त्रित किये गये हैं।

इस महत्वपूर्ण बैठक के सम्बन्ध में महासंघ के प्रदेश अध्यक्ष दीपक जोशी ने बताया है कि राज्य स्वास्थ्य प्राधिकरण के स्तर पर कार्मिकों, शिक्षकों, पेंशनर्स व पारिवारिक सदस्यों के चिकित्सा दावों के निस्तारण में उदासीनता बरती जा रही है। कार्मिक नेता जोशी ने स्पष्ट आरोप लगाया कि स्वास्थ्य प्राधिकरण द्वारा प्रतिमाह मात्र अंशदान की लूट का कार्य ही प्रमुखता से किया जा रहा है। लेकिन अब इसके विरोध में कार्मिक-शिक्षक व पेंशनर्स के ज्वलन्त मुद्दों पर एक ठोस रणनीति तय किये जाने हेतु बैठक बुलायी गयी है और यह बैठक सामूहिक सहयोगिता से सम्पन्न होगी। इस बैठक में पदाधिकारियों के अतिरिक्त संघ/संगठन के प्रति जागरूक व क्रान्तिकारी साथीगण भी स्वतः स्फूर्त रूप से आमंत्रित किये गये हैं, जिसके आधार पर अग्रेत्तर रणनीति तय की जायेगी।


TheNewsAdda

leave a reply

error: Content is protected !!