महिला अधिकारियों के साथ बर्ताव पर पार्षद के माफीनामे के बाद विवाद का पटाक्षेप, कार्मिक महासंघ घटना के बाद था आक्रोश में 

TheNewsAdda

  • समाज कल्याण विभाग के घटनाक्रम में पार्षद द्वारा दिये गये माफीनामे के बाद प्रकरण का हुआ पटापेक्ष
  • महिला अधिकारियों की भावनाओं पर लगी ठेस पर पार्षद ने व्यक्त किया खेद
  •  महासंघ के अध्यक्ष के समक्ष मामले का हुआ निपटारा 

देहरादून: बीती 15 जून को जिला समाज कल्याण कार्यालय में घटित घटनाक्रम को लेकर जिला समाज कल्याण अधिकारी के समक्ष महिला अधिकारियों के उत्पीड़न के मामले का आज पटाक्षेप हो गया है। ज्ञात हो कि उत्तराखण्ड अधिकारी-कार्मिक-शिक्षक महासंघ ने इस घटना पर गहरा आक्रोश व्यक्त करते हुए एक्शन की मांग की थी।

महासंघ द्वारा किये गये आक्रोश के उपरान्त आज जिला समाज कल्याण अधिकारी की उपस्थिति में सम्बन्धित पार्षद द्वारा महासंघ के अध्यक्ष दीपक जोशी एवं अन्य सहयोगियों के समक्ष उक्त घटनाक्रम में आपसी सामंजस्य की कमी के कारण हुए वाद-विवाद को दुर्भाग्यपूर्ण बताते हुये किसी भी कार्मिक व महिला अधिकारी की भावनाओं को किसी भी प्रकार की कोई ठेस पहुंची हो तो उसके लिये सम्बन्धित पार्षद द्वारा व्यक्तिगत रूप से खेद व्यक्त किया गया है। 

आज जिला समाज कल्याण अधिकारी को दिये गये माफीनामे में दरवाजे पर कुंडी लगाये जाने के सम्बन्ध में कहा गया कि यह कुंडी उनके तथा उनके किसी साथी द्वारा नहीं लगायी गयी थी तथा न ही इस कृत्य के लिये वे जिम्मेदार हैं। कुंडी लगाने वाले व्यक्ति से उनका कोई सम्बन्ध नहीं है।

महासंघ के अध्यक्ष व जिला समाज कल्याण अधिकारी के समक्ष हुई वार्ता एवं दिये गये माफीनामे के उपरान्त इस प्रकरण का पटापेक्ष करने का अनुरोध भी सम्बन्धित पार्षद द्वारा किया गया, जिस पर सभी के स्तर से आपसी गतिरोध को समाप्त करते हए सौहार्दपूर्ण वातावरण में कार्य करने व आपसी सामंजस्य के साथ एक-दूसरे की भावनाओं को समझने व महिला कार्मिकों से नम्रतापूर्वक व्यवहार व आचरण रखने की अपेक्षा की गयी।

महासंघ अध्यक्ष दीपक जोशी की ओर से बताया गया है कि सम्बन्धित पार्षद द्वारा आज मामले में स्वयं द्वारा जिला समाज कल्याण अधिकारी की उपस्थिति में समाज कल्याण विभाग की महिला अधिकारियों/कार्मिकों की भावनाओं को पहुंची ठेस पर खेद व्यक्त करते हुए लिखित माफीनामा दे दिया गया है तथा घटना पर खेद व्यक्त कर अपने बड़प्पन का परिचय दिया है।

इसलिये इस मामले में अब अनावश्यक तूल न देकर मामले को यही पर समाप्त कर इसका पटापेक्ष कर दिया गया है तथा भविष्य के लिये दोनों पक्षों को आपसी सौहार्द व सामंजस्य के साथ आम जनमानस के कार्य किये जाने का अनुरोध किया है। इस घटनाक्रम का सूझ-बूझ के साथ शीघ्र पटापेक्ष करने हेतु जिला समाज कल्याण अधिकारी देहरादून का धन्यवाद ज्ञापित किया गया। 


TheNewsAdda

TNA

जरूर देखें

02 Jul 2021 2.34 am

TheNewsAdda देहरादून: मौसम…

03 Sep 2021 3.17 am

TheNewsAdda देहरादून: बाइस…

03 Jan 2022 7.52 am

TheNewsAdda सनातन धर्म…

error: Content is protected !!